भूगोल में समोच्च क्या हैं?

Contents

भूगोल में समोच्च क्या हैं?

परिभाषा: रूपरेखा मानचित्रों पर पाई जाने वाली रेखाओं का एक संग्रह है जो पहाड़ों, घाटियों और भू-आकृतियों को दर्शाती है । समोच्च रेखाओं को समुद्र तल से मापा जाता है। यदि कंट्रोवर्सी पास में हैं, तो इसका अर्थ है कि भूमि बहुत खड़ी है, यदि कंट्रोवर्सी व्यापक रूप से फैली हुई है, तो इसका अर्थ है कि भूमि अधिक समतल है।

समोच्च से आप क्या समझते हैं?

1: विशेष रूप से एक घुमावदार या अनियमित आकृति की एक रूपरेखा : कार के चिकना आकृति को आकार दें नक्शा समुद्र तट के समोच्च को दर्शाता है। यह भी: इस रूपरेखा का प्रतिनिधित्व करने वाली रेखा। 2: किसी चीज़ का सामान्य रूप या संरचना: विशेषता – बहुवचन में एक राग की आकृति का उपयोग किया जाता है …

समोच्च रेखा विधि क्या है?

समोच्च रेखाएँ वक्र, सीधी या मानचित्र पर दोनों रेखाओं का मिश्रण होती हैं जो एक या अधिक क्षैतिज तलों के साथ वास्तविक या काल्पनिक सतह के प्रतिच्छेदन का वर्णन करती हैं । इन रूपरेखाओं का विन्यास मानचित्र पाठकों को एक पैरामीटर के सापेक्ष ढाल का अनुमान लगाने और विशिष्ट स्थानों पर उस पैरामीटर का अनुमान लगाने की अनुमति देता है।

जब समोच्च रेखायें समानान्तर तथा बराबर दूरी पर स्थित होती है तब कौन सा क्षेत्र प्रदर्शित करती है?

समान ढाल प्रदर्शित करने के लिये मानचित्र पर समोच्च रेखाएँ समान दूरी के अन्तर पर खींची जाती हैं। असमान ढाल देखने वाली समोच्च रेखाओं के मध्य की दूरी भी समान होती है अर्थात् समोच्च रेखाएं कहीं पास-पास तथा कहीं दूर-दूर स्थित होती हैं ।

समोच्च रेखाओं के अंतराल क्या दर्शाते हैं?

समोच्च रेखाओं के अंतराल विभिन्न उच्चावच रेखाओं के अंतर को दर्शाते हैं। दो समोच्च रेखाओं के मध्य उर्ध्वाधर अंतर समान रहता है। समोच्च रेखाएँ भिन्न-भिन्न अंतर पर खींची जाती हैं, जैसे- 20, 50, 100 मीटर।

क्या समोच्च बाधाओं है?

समोच्च बाधाएं, समोच्च पट्टियाँ हैं जो नीचे बहने वाले पानी और मिट्टी के कणों को रोकती हैं। ये बाधाएं पानी के बहाव को धीमा करती हैं और इसकी कटान शक्ति को कम करती हैं। वे खेतों में मिट्टी के कणों को खेत से बाहर बहने से रोकते हैं।

समोसे कृषि से आप क्या समझते हैं?

समोच्च खेती क्षरण नियंत्रण, नमी सरंक्षण एंव फसल उत्पादकता बढ़ाने का एक आसान, प्रभावशाली एंव कम लागत वाली विधि है। इसमें फसल सबंधी कार्य जैसे हल चलाना, बीज बोना समोच्च पंक्तियों के साथ करते है। इस प्रकार समोच्च पंक्तियों में खूंड़ (Furrows) एंव मेंड (Ridges) बन जाते है जो सूक्ष्म जलाशयों की तरह कार्य करते है।

सम्मोच रेखा क्या है उसकी प्रमुख विशेषताएं बताइए?

समोच्च रेखा माध्य समुद्र तल से समान ऊँचाई वाले बिंदुओं को मिलाने वाली काल्पनिक रेखा होती है। वह मानचित्र, जो भू-आकृति को समोच्च रेखाओं द्वारा दर्शाता है, समोच्च रेखा मानचित्र कहलाता है। उच्चावच लक्षणों को समोच्च रेखा के द्वारा दर्शाना अत्यधिक उपयोगी एवं लोकप्रिय विधि है।

समोच्च रेखा क्या है इसके द्वारा विभिन्न प्रकार के डालो का प्रदर्शन किस प्रकार किया जाता है?

समोच्च रेखा, भूमि की सतह पर एक काल्पनिक रेखा का प्रतिनिधित्व करने वाले नक्शे पर एक रेखा, जिसके सभी बिंदु एक डेटम प्लेन के ऊपर समान ऊंचाई पर हैं, आमतौर पर समुद्र तल का मतलब है। समुद्र की 100 फीट (30.5 मीटर) की गहराई तक एक भूमि की सतह की कल्पना करें-यह भूमि की असमान सतह के साथ एक क्षैतिज मैदान का चौराहा है।

जो रेखा भूमि के समानान्तर हो उसे क्या कहते हैं?

Answer: समतल रेखा से तात्पर्य भूमि के समानांतर सीधी एवं सपाट रेखा से होता है। … समतल रेखा एक सरल रेखा होती है, जो सभी बिंदुओं पर भूमितल के समानांतर होती है।

देशांतर और अक्षांश का अर्थ क्या है?

पृथ्वी में किसी स्थान की भौगोलिक स्थिति का निर्धारण अक्षांश (latitude) और देशांतर (Longitude) रेखाओं द्वारा किया जाता है। किसी स्थान का अक्षांश (latitude), धरातल पर उस स्थान की “उत्तर से दक्षिण” की स्थिति को तथा किसी स्थान का देशांतर (Longitude), धरातल पर उस स्थान की “पूर्व से पश्चिम” की स्थिति को प्रदर्शित करता है।

कंटूर रेखा क्या दर्शाती है?

कंटूर रेखाएँ (Contour Lines) वे काल्पनिक रेखाएँ हैं, जो बराबर ऊँचाई वाले क्षेत्र को दर्शाती है। हेलाइन (Haline), समान लवणता वाले स्थानों को मिलाने वाली रेखाएं है। आइसोबार (Isobar) – समान वायु दाब वाले स्थानों को जोड़ने वाली रेखाओं को कहते है।

समान रेखा में क्या अंतर है?

सममान रेखा मानचित्र की रचना सममान रेखा विधि द्वारा होती है। सामान्य अर्थ में समान माप अथवा मान वाली रेखा को सममान रेखा कहते हैं। मानचित्र पर किसी तत्व/ वस्तु के समान मूल्य /घनत्व वाले स्थानों को मिलाकर खींची जाने वाली काल्पनिक रेखाएं सममान रेखाएं (आइसोप्लेथ) कहलाती है।

सममान रेखा मानचित्र क्या है एक क्षेपक को किस प्रकार कार्यान्वित किया जाता है?

सममान रेखाओं को (Isolines) भी कहा जाता है। क्षेपक – समान मानों के स्थानों को मिलाने वाली सममान रेखाओं का चित्रण ही क्षेपक कहलाता है। क्षेपक का उपयोग । दो स्थानों के प्रेक्षित मानों के बीच माध्यमान प्राप्त करने के लिए किया जाता है।

मानचित्र बनाने की कौन कौन सी विधियां होती है?

  • रचना शैली के अनुसार मानचित्र बनाने की दो विधियां हैं जिन्हें पुनः वर्गीकृत किया गया हैं –
  • गुणात्मक विधियाँ:
  • 1.1 सामान्य छाया विधि 1.2 रंगारेख विधि 1.3 वर्णप्रतीकी विधि 1.4 चित्रीय विधि 1.5 नामकरण विधि
  • मात्रात्मक विधियाँ:
  • 1.1 बिन्दु विधि 1.2 सममान रेखा विधि 1.3 आलेखी विधि 1.4 वर्णमाली रेखा विधि

स्थलाकृतिक अंशचित्रों में क्या क्या सूचनाएं निहित होती हैं तथा उन्हें किस प्रकार प्रदर्शित किया जाता है?

स्थलाकृतिक अंशचित्र, स्थलाकृतिक मानचित्र या भूपत्रक (Topographical sheet or topographic map) बड़े पैमाने पर निर्मित मानचित्र जिसमें किसी क्षेत्र के प्राकृतिक तथा मानवीय तथ्यों के विस्तृत विवरण को प्रदर्शित किया जाता है। उच्चावच को सामान्यतः समोच्च रेखाओं द्वारा तथा अन्य तथ्यों को परंपरागत चिह्नों द्वारा दिखाया जाता है।

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *